शहर के नाम : मृदुला गर्ग | ‘Shahar ke naam’ By : Mridula Garg

शहर के नाम कहानी संग्रह में स्त्री जीवन के दर्द, संघर्ष, पीड़ा, विद्रोह, संत्रास और स्वतंत्रता की तड़प का यथार्थ चित्रण किया गया है। इस कहानी संग्रह में कुल ग्यारह…

Continue Reading शहर के नाम : मृदुला गर्ग | ‘Shahar ke naam’ By : Mridula Garg

मोहन राकेश का जीवन परिचय | Mohan Rakesh Biography in Hindi

मोहन राकेश का जन्म 8 जनवरी सन 1925 में पंजाब के अमृतसर में एक सिंधी परिवार में हुआ था | उन्होंने पंजाब यूनिवर्सिटी से पहले अंग्रेजी और फिर हिंदी भाषा…

Continue Reading मोहन राकेश का जीवन परिचय | Mohan Rakesh Biography in Hindi

मन्नू भंडारी का जीवन परिचय | Mannu Bhandari Biography

मन्नू भंडारी का जन्म 3 अप्रैल 1931 में मध्यप्रदेश के भानपुरा नामक गाँव में एक संयुक्त मारवाड़ी परिवार में हुआ था | मन्नू जी अपने पिता के सभी संतानों में…

Continue Reading मन्नू भंडारी का जीवन परिचय | Mannu Bhandari Biography

उर्फ सैम : मृदुला गर्ग | ‘Urf Saim’ By : Mridula Garg

उर्फ सैम कहानी संग्रह में विविध विषयों पर लिखी गई कुल बारह कहानियों को संग्रहित किया गया है |  इस कहानी संग्रह की कहानियों में प्रवासी भारतीयों के जीवन से…

Continue Reading उर्फ सैम : मृदुला गर्ग | ‘Urf Saim’ By : Mridula Garg

ग्लेशियर से : मृदुला गर्ग | ‘Glacier se’ By : Mridula Garg

ग्लेशियर से कहानी संग्रह में अलग-अलग विषयों से सम्बन्धित कुल सोलह कहानिय संग्रहित हैं जिनका परिचय निम्न प्रकार से है | कहानी संग्रह का नामग्लेशियर से (Glacier se)लेखक (Author)मृदुला गर्ग (Mridula Garg)भाषा (Language)हिन्दी (Hindi)प्रकाशन वर्ष (Year…

Continue Reading ग्लेशियर से : मृदुला गर्ग | ‘Glacier se’ By : Mridula Garg

डेफोडिल जल रहे हैं : मृदुला गर्ग | Daffodil jal rahe hain By : Mridula Garg

डेफोडिल जल रहे हैं कहानी संग्रह में मृत्युबोध के अंकन के साथ-साथ नारी मन का भी चित्रण हुआ है | इसमें कुल तीन लंबी कहानियाँ संग्रहित हैं | 'डेफोडिल जल…

Continue Reading डेफोडिल जल रहे हैं : मृदुला गर्ग | Daffodil jal rahe hain By : Mridula Garg

टुकड़ा टुकड़ा आदमी : मृदुला गर्ग | Tukada Tukada Aadmi By : Mridula Garg

टुकड़ा टुकड़ा आदमी कहानी संग्रह की कहानियों में नारी के मानसिक संत्रास असफल वैवाहिक जीवन, आर्थिक शोषण आदि समस्या की अभिव्यक्ति हुई है | इस कहानी संग्रह में कुल चौदह…

Continue Reading टुकड़ा टुकड़ा आदमी : मृदुला गर्ग | Tukada Tukada Aadmi By : Mridula Garg

कितनी कैदें : मृदुला गर्ग | Kitni Kaiden kahani sangrah By : Mridula Garg

कितनी कैदें कहानी संग्रह का कथानक जितना प्रभावशाली है, उसके पात्र भी उतने ही प्रभावशाली एवं भिन्न-भिन्न आयामों से युक्त है | इस संग्रह की कहानियों में विभिन्न प्रकार के…

Continue Reading कितनी कैदें : मृदुला गर्ग | Kitni Kaiden kahani sangrah By : Mridula Garg

मिलजुल मन : मृदुला गर्ग | Miljul Man Upnayas By : Mridula Garg

मिलजुल मन मृदुला जी का आत्मकथात्मक उपन्यास है जिसकी कथा पिछले पचास वर्षों के घटनाक्रम को चित्रित करती है | इस उपन्यास की कहानी मोगरा तथा गुलमोहर दो बहनों के…

Continue Reading मिलजुल मन : मृदुला गर्ग | Miljul Man Upnayas By : Mridula Garg

कठगुलाब : मृदुला गर्ग | Kathgulab Upnayas By : Mridula Garg

कठगुलाब उपन्यास की कथा नारी जीवन तथा उसके संघर्षो को लेकर लिखा गया है | इस उपन्यास का कथानक समाज में व्याप्त नारी के शोषण, अन्याय तथा स्त्रियों के विभिन्न…

Continue Reading कठगुलाब : मृदुला गर्ग | Kathgulab Upnayas By : Mridula Garg